[PDF] Vishnu Chalisa Lyrics – श्री विष्णु चालीसा

SHARE THIS POST

Reciting Vishnu Chalisa is thought to bring an augmentation of happiness and prosperity. As per religious scriptures, those who regularly recite Vishnu Chalisa are said to always have an ambiance of joy in their homes. Today I will share the Vishnu Chalisa Lyrics in Hindi and English with the PDF file where you can save it for future use.

धार्मिक ग्रंथों के अनुसार, विष्णु चालीसा को नियमित रूप से पढ़ने वाले के घर में हमेशा खुशियाँ बनी रहती हैं। इस संदर्भ में, हम आज आपके लिए विष्णु चालीसा के हिंदी बोल लिखे हैं, जिन्हें आप नियमित रूप से अपने घर में उच्चरण कर सकते हैं…

Vishnu Chalisa Lyrics in Hindi and English

श्री विष्णु चालीसा हिन्दी लीरिक्स

दोहा

विष्णु सुनिए विनय सेवक की चितलाय।

कीरत कुछ वर्णन करूं दीजै ज्ञान बताय।

चौपाई

नमो विष्णु भगवान खरारी।
कष्ट नशावन अखिल बिहारी॥

प्रबल जगत में शक्ति तुम्हारी।
त्रिभुवन फैल रही उजियारी॥

सुन्दर रूप मनोहर सूरत।
सरल स्वभाव मोहनी मूरत॥

तन पर पीतांबर अति सोहत।
बैजन्ती माला मन मोहत॥

शंख चक्र कर गदा बिराजे।
देखत दैत्य असुर दल भाजे॥

सत्य धर्म मद लोभ न गाजे।
काम क्रोध मद लोभ न छाजे॥

संतभक्त सज्जन मनरंजन।
दनुज असुर दुष्टन दल गंजन॥

सुख उपजाय कष्ट सब भंजन।
दोष मिटाय करत जन सज्जन॥

पाप काट भव सिंधु उतारण।
कष्ट नाशकर भक्त उबारण॥

करत अनेक रूप प्रभु धारण।
केवल आप भक्ति के कारण॥

धरणि धेनु बन तुमहिं पुकारा।
तब तुम रूप राम का धारा॥

भार उतार असुर दल मारा।
रावण आदिक को संहारा॥

आप वराह रूप बनाया।
हरण्याक्ष को मार गिराया॥

धर मत्स्य तन सिंधु बनाया।
चौदह रतनन को निकलाया॥

अमिलख असुरन द्वंद मचाया।
रूप मोहनी आप दिखाया॥

देवन को अमृत पान कराया।
असुरन को छवि से बहलाया॥

कूर्म रूप धर सिंधु मझाया।
मंद्राचल गिरि तुरत उठाया॥

शंकर का तुम फन्द छुड़ाया।
भस्मासुर को रूप दिखाया॥

वेदन को जब असुर डुबाया।
कर प्रबंध उन्हें ढूंढवाया॥

मोहित बनकर खलहि नचाया।
उसही कर से भस्म कराया॥

असुर जलंधर अति बलदाई।
शंकर से उन कीन्ह लडाई॥

हार पार शिव सकल बनाई।
कीन सती से छल खल जाई॥

सुमिरन कीन तुम्हें शिवरानी।
बतलाई सब विपत कहानी॥

तब तुम बने मुनीश्वर ज्ञानी।
वृन्दा की सब सुरति भुलानी॥

देखत तीन दनुज शैतानी।
वृन्दा आय तुम्हें लपटानी॥

हो स्पर्श धर्म क्षति मानी।
हना असुर उर शिव शैतानी॥

तुमने ध्रुव प्रहलाद उबारे।
हिरणाकुश आदिक खल मारे॥

गणिका और अजामिल तारे।
बहुत भक्त भव सिन्धु उतारे॥

हरहु सकल संताप हमारे।
कृपा करहु हरि सिरजन हारे॥

देखहुं मैं निज दरश तुम्हारे।
दीन बन्धु भक्तन हितकारे॥

चहत आपका सेवक दर्शन।
करहु दया अपनी मधुसूदन॥

जानूं नहीं योग्य जप पूजन।
होय यज्ञ स्तुति अनुमोदन॥

शीलदया सन्तोष सुलक्षण।
विदित नहीं व्रतबोध विलक्षण॥

करहुं आपका किस विधि पूजन।
कुमति विलोक होत दुख भीषण॥

करहुं प्रणाम कौन विधिसुमिरण।
कौन भांति मैं करहु समर्पण॥

सुर मुनि करत सदा सेवकाई।
हर्षित रहत परम गति पाई॥

दीन दुखिन पर सदा सहाई।
निज जन जान लेव अपनाई॥

पाप दोष संताप नशाओ।
भव-बंधन से मुक्त कराओ॥

सुख संपत्ति दे सुख उपजाओ।
निज चरनन का दास बनाओ॥

निगम सदा ये विनय सुनावै।
पढ़ै सुनै सो जन सुख पावै॥

Vishnu Chalisa English Lyrics

॥ Doha॥

Vishnu Suniye Vinay, Sevak Ki Chitalaay ।
Keerat Kuchh Varnan Karun, Dijai Gyaan Bataay ॥

॥ Chaupaai॥

Namo Vishnu Bhagawana Kharari।
Kashta Nashavana Akhila Bihari॥

Prabala Jagata Mein Shakti Tumhari।
Tribhuvana Phaila Rahi Ujiyari॥

Sundara Rupa Manohara Surata।
Sarala Svabhava Mohini Murata॥

Tana Para Pitambara Ati Sohata।
Baijanti Mala Mana Mohata॥

Shankha Chakra Kara Gada Biraje।
Dekhata Detaye Asura Dala Bhaje॥

Satya Dharma Mada Lobha Na Gaje।
Kama Krodha Mada Lobha Na Chhaje॥

Santabhakta Sajjana Manaranjana।
Danuja Asura Dushtana Dala Ganjana॥

Sukha Upjaye Kashta Saba Bhanjana।
Dhosha Mitaye Karata Jana Sajjana॥

Papa Kata Bhava Sindhu Utarana।
Kashta Nashkara Bhakata Ubarana॥

Karata Aneka Rupa Prabhu Dharana।
Kevala Apa Bhakti Ke Karana॥

Dharani Dhenu Bana Tumhi Pukara।
Taba Tuma Rupa Rama Ka Dhara॥

Bhara Utara Asura Dala Mara।
Ravana Adika Ko Samhara॥

Apa Varaha Rupa Banaya।
Hiranyaksha Ko Mara Giraya॥

Dhara Matsya Tana Sindhu Banaya।
Chaudaha Ratanana Ko Nikalaya॥

Amilakha Asurana Dwanda Machaya।
Rupa Mohini Apa Dikhaya॥

Devana Ko Amrita Pana Karaya।
Asurana Ko Chhabi Se Bahalaya॥

Kurma Rupa Dhara Sindhu Majhaya।
Mandrachala Giri Turata Uthaya॥

Shankara Ka Tuma Phanda Chudaya।
Bhasmasura Ko Rupa Dikhaya॥

Vedana Ko Jaba Asura Dubaya।
Kara Prabandha Unhe Dhundhawaya॥

Mohita Bankara Khalahi Nachaya।
Usahi Kara Se Bhasma Karaya॥

Asura Jalandhara Ati Baladayi।
Shankara Se Una Kinha Ladayi॥

Hara Para Shiva Sakala Banaye।
Kina Sati Se Chala Khala Jayi॥

Sumirana Kina Tumhe Shivarani।
Batalayi Saba Vipata Kahani॥

Taba Tuma Bane Munishwara Gyani।
Vrinda Ki Saba Surati Bhulani॥

Dekhata Tina Danuja Shaitani।
Vrinda Aya Tumhein Laptani॥

Ho Sparsha Dharma Kshati Mani।
Hana Asura Ura Shiva Shaitani॥

Tumane Dhruru Prahalada Ubare।
Hiranakusha Adika Khala Mare॥

Ganika Aur Ajamila Tare।
Bahuta Bhakta Bhava Sindhu Utare॥

Harahu Sakala Santapa Hamare।
Kripa Karahu Kari Sirajana Hare॥

Dekhahun Main Nija Darasha Tumhare।
Dina Bandhu Bhaktana Hitkare॥

Chahata Apka Sevaka Darshana।
Karahu Daya Apni Madhusudana॥

Janu Nahi Yogya Japa Pujana।
Hoye Yajna Shtuti Anumodana॥

Shiladaya Santosha Sulakshana।
Vidita Nahi Vratabodha Vilakshana॥

Karahu Apka Kisa Vidhi Pujana।
Kumati Viloka Hota Dukha Bhishana॥

Karahu Pranama Kauna Vidhisumirana।
Kauna Bhanti Main Karahu Samarpana॥

Sura Muni Karata Sada Sivakai।
Harshita Rahata Parama Gati Payi॥

Dina Dukhina Para Sada Sahai।
Nija Jana Jana Leva Apanayi॥

Papa Dosha Santapa Nashao।
Bhava Bandhana Se Mukta Karao॥

Sukha Sampati De Sukha Upjao।
Nija Charanana Ka Dasa Banao॥

Nigama Sada Ye Vinaya Sunavai।
Padhai Sunai So Jana Sukha Pavai॥

Vishnu Chalisa Video for Practicing Chalisa

Vishnu Chalisa PDF Hindi

Vishnu Chalisa Hindi PDF Download
PDF NameVishnu Chalisa Hindi PDF
No. of Pages10
PDF Size1.2 MB
LanguageHindi
PDF CategoryHindu PDF
Last UpdatedAugust 13, 2023
Source / CreditsN.A.
Uploaded ByPDF-TXT.COM

“हिन्दू धर्म में, सप्ताह के प्रत्येक दिन किसी विशिष्ट देवी या देवता के नाम पर समर्पित होता है। गुरुवार को भगवान विष्णु की पूजा की जाती है। इस दिन, लोग विश्व के पालक भगवान हरि विष्णु की पूजा करते हैं, विशेष आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए।

माना जाता है कि इस दिन उपवास रखने और प्रार्थनाएँ करने से कुंडली में गुरु दोष के नकारात्मक प्रभाव को कम किया जा सकता है। पूजा के अलावा, आप गुरुवार को विष्णु चालीसा का पाठ भी कर सकते हैं। विष्णु चालीसा की उच्चारणा से सुख और समृद्धि में वृद्धि होने का मानना है।

Vishnu Chalisa PDF English

Vishnu Chalisa English
PDF NameVishnu Chalisa English PDF
No. of Pages10
PDF Size1.2 MB
LanguageEnglish
PDF CategoryHindu PDF
Last UpdatedAugust 13, 2023
Source / CreditsN.A.
Uploaded ByPDF-TXT.COM

In Hinduism, devotees dedicate each day of the week to a specific deity. Thursday is devoted to the worship of Lord Vishnu. On this day, people offer prayers to Lord Hari Vishnu, the nurturer of the world, to seek special blessings.

It is believed that observing a fast and engaging in prayers on this day can mitigate the adverse effects of Guru Dosha in one’s astrological chart. In addition to worship, the recitation of Vishnu Chalisa can also be performed on Thursdays.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *