Hanuman ji Family – Mother, Father, Brother, Son Names PDF

Here you will find the Names of Hanuman Ji’s Family Members, we all know his mother’s and Father’s names but very few know his brother’s names and Son Names.

जैसे के हम सब जानते है पवन पुत्र हनुमान, केसरी नंदन हनुमान, अंजनी सुत हनुमान यह हनुमान जी के कुछ नाम उनके माता पिता एवं देवंश का नाम दर्शाते है।

आज मैं आप को हनुमान जी के माता, पिता सहित उनके भाई, और हनुमान जी के पुत्र का नाम भी बताऊँगी आप यदि चाहे तो नीचे दिए टेबल की स्क्रीनशॉट ले सकते है।

Hanuman ji Family Info: हिन्दी/English

You can take a screenshot of the following table to note down Hanuman ji Family Members Name.

NameRelation
अंजनी (Anjani)माता Mother
केसरी (Kesari)पिता Father
वायु देव (The god of the air)देवांश Godfather
मतिमान (Matiman), श्रुतिमान (Shrutiman), केतुमान (Ketuman), गतिमान (Gatiman), and धृतिमान (Dhritiman)भाई Brother
मकरध्वज (Makardhwaja)पुत्र Son
Hanuman Family Members Name
Hanuman ji Family details in Hindi

Mother of Hanuman: हनुमान जी की माता:

जैसे की पौराणिक कथा मे लिखित है जो कुछ होता है विधि लिखित होता है, वेसे ही स्वर्ग की अफसरा को उनकी भूल के कारण मिल जाता है ऋषि से श्राप के वह वानर रूप मे धरती पर जनम लेंगी वही अंजनी माता बन जाती है हनुमान जी के जन्म की वजह।

हनुमान जी की माता का नाम अंजनी वह वानर राजा केसरीजी की पत्नी है। जो एक श्राप के कारण वानर रूप मे धरती पे जनम लेती है।

Brothers of Hanuman: हनुमान जी के भाई:

जैसे सुंदरकांड मे हनुमान जी के बारे मे बताया गया है वेसे ही ब्रम्हांडपुरान मे हनुमान जी के 5 भाइयों के बारे मे बताया गया है।

पौराणिक कथाओं के अनुसार केसरी और अंजनी के 6 पुत्र बताएं गए हैं। यानि हनुमान जी के 5 भाई थे, जिनके नाम इस प्रकार थे – मतिमान, श्रुतिमान, केतुमान, गतिमान और धृतिमान। हनुमान जी इन सब मे जेस्ठ भाई थे।

Hanuman ji Family - 5 Brother names

Father of Hanuman: हनुमान जी के पिता

हनुमान जी के पिता का नाम केसरी था हनुमान जी एक वानर राजा के पुत्र थे। केसरी बृहस्पति के पुत्र थे जो श्री राम जी के सेना मे शामिल थे। माता अंजनी और पिता केसरी ने महादेव की पूजा कर पुत्र प्राप्ति का वरदान मांगा था। तभी हनुमान जी को शिवजी का अवतार भी कहा जाता है।

पौराणिक कथा के नुसार हनुमान जी के 3 पिता थे,

  1. शिवजी: जिनके अंश से बने हनुमान
  2. पवन देव: शिव के अंश को अंजनी माता के गर्भ तक पोहचाया।
  3. राजा केसरी: जिन्होंने हनुमान का पालन पोषण किया।

Son of Hanuman: हनुमान के पुत्र का नाम:

हनुमान जी तो ब्रह्मचारी थे फिर उनके पुत्र का होना तो आश्चर्यचकित कर ही देगा ना। ऐसे ही चकित हुए थे हनुमान जब पाताल लोक जाकर वह राम और लक्ष्मण जी को छुड़ाकर ला रहे थे तभी हनुमान जी की शक्ति पे भारी पड़ा उनका ही पुत्र मकरध्वज।

हनुमान जी ने पाताल के राजा अहिरावण को परास्त कर अपने पुत्र को पाताल का राजा घोषित कर सत्य के मार्ग पर चलने का ज्ञान दिया था।

डिसक्लेमर

“इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी। यदि कुछ जानकारी गलत है तो कृपया हमे संपर्क करे।”

Also Read This:


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 Comment